‘३ इडियटस्’ मधी...

‘३ इडियटस्’ मधील १७ चटपटीत डायलॉग्ज् : तुमच्या आवडीचा कोणता? (17 Most Popular Dialogues From ‘3 Idiots’ Film, Which One You Liked Most)

आमिर खानची सर्वाधिक लोकप्रिय भूमिका ‘३ इडियटस्‌’ मध्ये होती. त्यामध्ये एकूणच सर्व संवाद चटपटीत होते. इथे आम्ही त्यांची आठवण करत १७ संवाद देतोय्‌. त्यापैकी तुमच्या आवडीचा कोणता, ते बघा.

या चित्रपटातील ‘ऑल इज वेल’, ‘जहांपनाह तुस्सी ग्रेट हो’, ‘तोहफा कबुल करो’ ही वाक्ये तरुणांच्या तोंडी येत होती. त्याशिवाय काही प्रसिद्ध असलेले हे डायलॉग्ज्‌.

१) स्तन होता सभी के पास है… सब छुपा के रखते हैं… देता कोई नहीं…
२) आज रात को अंडरवेयर बिना होल वाली पहनना…
३) बाहर आ… नहीं तो मैं तेरे दरवाजे पर मूत्र विसर्जन करूंगा…
४) पिछले बीस साल से इन्होंने निरंतर इस कॉलेज में बलात्कार पे बलात्कार किए…
५) एग्जाम तो बहुत होते हैं, बाप मोस्टली एक ही होता है…
६) आप अपनी नौकरी रख लीजिए… मैं अपना एटीट्यूड रख लेता हूं…
७) बड़ी दुविधा थी, दोस्त को संभालते कि दोस्त की मां के आंसू पोंछते… फिर हमने सोचा हटाओ यार, मटर पनीर पे कॉन्संट्रेट करो…
८) दोस्त अगर फेल हो जाए तो दुख होता है… लेकिन अगर दोस्त फर्स्ट आ जाए तो ज्यादा दुख होता है…
९) पनीर तो बेटा, कुछ दिनों में इत्ती इत्ती थैलियों में सोनार की दुकान पे बिकेगा…
१०) जहांपनाह तुस्सी ग्रेट हो, तोहफा कबूल करो…
११) ऑल इज़ वेल…
१२) क़ामयाब होने के लिए नहीं, क़ाबिल होने के लिए पढ़ो…
१३) लाइफ एक रेस है, अगर तेज नहीं भागोगे तो लोग तुम्हें कुचलकर आगे निकल जाएंगे…
१४) मैं तो आपको ये पढ़ा रहा था कि पढ़ाते कैसे हैं…
१५) दोनों टांगें तुड़वा के अपने पैरों पे खड़ा होना सीखा है…
१६) अजीब देश है हमारा, पिज़्ज़ा तीस मिनट में पहुंचने की गारंटी है… लेकिन एम्बुलेंस?
१७) सक्सेस के पीछे मत भागो, एक्सीलेंस का पीछा करो, सक्सेस झक मारके तुम्हारे पीछे आएगी